Facebook, डेटा प्रोवाइडर के साथ कैसे काम करता है?

इस पेज पर, तीसरे पक्ष के उन डेटा प्रोवाइडर की सूची होती थी जिनके साथ काम करके Facebook करता था और जिन्हें सीधे Facebook पर टार्गेटिंग सेगमेंट मुहैया कराता था. साथ ही, उस प्रोग्राम का वर्णन दिया गया होता था. अप्रैल 2018 में अपनी डेटा नीति को अपडेट करने के बाद, हमने इस प्रोग्राम को बंद कर दिया. Facebook, अब तीसरे पक्ष के डेटा प्रोवाइडर के टार्गेटिंग सेगमेंट को सीधे Facebook पर मुहैया कराने के लिए, उनके साथ मिलकर काम नहीं करता है.
व्यवसाय चाहें तो अपने आप डेटा प्रोवाइडर के साथ काम करना जारी रख सकते हैं. आज कई व्यवसाय, तीसरे पक्षों के साथ मिलकर काम करते हैं ताकि अपनी मार्केटिंग की कोशिशों को प्रबंधित कर सकें और उन्हें समझ सकें. उदाहरण के लिए, हो सकता है कि एक ऑटो डीलर उन लोगों के लिए एक ऑफ़र कस्टमाइज़ करना चाहता हो जिनकी नई कार खरीदने में दिलचस्पी हो सकती है. हो सकता है कि डीलर कुछ ऑफ़र भेजना चाहता हो, जैसे कि इस डीलर से कार खरीदने वाले ग्राहकों को सर्विस पर छूट मिलेगी. इसके लिए, ऑटो डीलर ऐसे ग्राहकों का पता लगाने और उचित ऑफ़र के साथ उन तक पहुँचने के लिए तीसरे पक्ष की कंपनी के साथ काम करता है.
इसलिए, हो सकता है कि आपको विज्ञापन दिखाने वाले व्यवसाय लोगों की किसी ऐसी सूची का इस्तेमाल कर रहे हों जो उन्हें उन तीसरे पक्ष से मिली है (या उसके उपयोग की अनुमति मिली है) जिनके साथ वे अपनी मार्केटिंग की कोशिश के लिए काम कर रहे हैं. Facebook पर विज्ञापन देने वाले व्यवसायों के पास इस जानकारी का उपयोग करने के लिए ज़रूरी अधिकार और अनुमतियाँ होनी चाहिए. इनके बारे में हमारी कस्टम ऑडियंस की शर्तों में बताया गया है और व्यवसायों को इन शर्तों का पालन करना ज़रूरी है.
आप विज्ञापन प्राथमिकताएँ पर जाकर इस बारे में और जान सकते हैं कि आपको कोई विज्ञापन क्यों दिखाई दे रहा है. साथ ही, यहाँ आप तय कर सकते हैं कि आपको किस तरह के विज्ञापन दिखाए जाएँ.
क्या यह जानकारी उपयोगी थी?